Tuesday , May 21 2019
Loading...
Breaking News

50 करोड़ की इजरायली तकनीक से एयरपोर्ट में नहीं घुस पाएंगे जानवर

सरदार वल्लभभाई पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा गुजरात में आवारा पशुओं के लिए अभयारण्य जैसा बन गया है। इस हवाई अड्डे में कुत्ते, बंदर और गाय-भैंसें रन-वे तक पहुंच जाते हैं। इन जानवरों की वजह से विमान संचालन में बड़ी बाधा उत्पन्न होती है। कई बार ऐसा हुआ है जबकि पशुओं के कारण फ्लाइट्स डायवर्ट कर दी गईं या लेट कर दी गईं। यहां पक्षियों की वजह से भी हादसा होने का खतरा रहता है। एयरपोर्ट के पास पक्षियों की संख्या अधिक होने के चलते बर्ड हीट की घटनाएं होती रही हैं। इसलिए, विमान प्राधिकरण को अब एक ठोस उपाय सूझा है।

अधिकारियों के मुताबिक, विमान प्राधिकरण ने तय किया है कि अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (Sardar Vallabhbhai Patel International Airport) पर पशुओं को रोकने के लिये पैरामीटर इंट्रुजन डिटेक्शन सिस्टम (PIDS) स्थापित कराए जाएंगे। पीआईडीएस (Perimeter Intrusion Detection System) में करीब 50 करोड़ रुपए लागत आएगी। खासतौर पर, ये इजरायली तकनीक से बना होगा, जिसके लिए अहमदाबाद से निकलती फ्लाइट्स किसी बाधा से नहीं थमेंगी। ये तकनीक बर्ड हीट से बचाने में भी सक्षम होगी।

प्रपोजल केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय के पास भेजा गया

अहमदाबाद हवाई अड्डे के निदेशक मनोज गंगल ने बताया कि इजरायल द्वारा तैयार की गई पीआईडीएस तकनीक के लिए हमने एक प्रपोजल केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय के समक्ष रखा है। मंजूरी मिलने पर यह व्यवस्था एक साल में हमारे पास होगी। यह सिस्टम कैसे हवाई अड्डे में जानवरों की घुसपैठ को नियंत्रित करेगा, इसके जवाब में गंगल ने कहा कि यदि कोई भी जानवर ‘पैरामीटर इंन्ट्रुजन डिटेक्शन सिस्टम’ की आधुनिक प्रणाली से सटे हवाई अड्डे की दीवार में घुसपैठ करता है, तो उसका फौरन पता लगाया जा सकता है। फिर, अलर्ट मिलने पर हवाई अड्डे की सुरक्षा के लिए सतर्क किया जा सकेगा।

वीडियो अलार्म या कंपन की वजह से चल सकेगा पता

इसका मतलब यह हुआ कि वीडियो अलार्म या कंपन की वजह से पशु घुसपैठ की सूचना दी जाएगी। इस प्रकार, हवाई अड्डे की टीम द्वारा तुरंत जानवरों को हटा दिया जाएगा, ताकि उड़ान में किसी भी बाधा का सामना न करना पड़े और एक बड़ी आपदा से बचा जा सके।

जब रनवे में घुस आई थीं गाय, बंदरों ने नहीं उड़ने दिए प्लेन

गौरतलब है कि, पिछले साल जनवरी में अहमदाबाद एयरपोर्ट के रनवे में गाय घुस गई थीं। पिछले महीने, बंदर घुसने की वजह से एक फ्लाइट टेकआॅफ नहीं हो पाई थी। कई बार बंदरों का भी सामना करना पड़ा। हालांकि, विमान प्राधिकरण के पास पक्षियों भगाने के लिये कोई सिस्टम हाथ नहीं लगी है, जिससे बार-बार उडान में बाधा आती है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *