Tuesday , May 21 2019
Loading...
Breaking News

औषधि से रूप में इस्तेमाल करें यह फल, हर तरह की बीमारी हो जाएँगी चुमंतर

हमारी प्रकृति ने हमे ऐसी बहुत सी औषधीयां दी है जिनका सही से इस्तेमाल करने पर बड़ी से बड़ी बीमारी भी करीब नहीं आती है आज हम आपको ऐसी ही एक औषधि के बारे में बता रहे है जो हर बीमारी के लिए काल है

बीमार होने पर हमें डॉक्टर फल खाने की सलाह देते हैं जो हमारे शरीर की सभी प्रकार की पोषक तत्वों को पूरी करके शरीर की कमजोरी को दूर करने में सहायक होते हैं। हमारे आसपास अनेक प्रकार के ऐसे फल पाए जाते हैं जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं लेकिन हमें उनके बारे में मालूम नहीं होता इसलिए हम उनका उचित उपयोग नहीं कर पाते हैं। आज हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताने जा रहे हैं जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है इस फल को प्राचीन काल से ही ऋषि मुनि जड़ी बूटी के तौर पर उपयोग करते आ रहे हैं जो सेहत के लिए फायदेमंद होता है।

हम जिस फल की बात कर रहे हैं उसे गूलर का फल कहते हैं। गूलर का फल बहुत ही चमत्कारी माना जाता है। गूलर के फल में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर की सभी प्रकार की कमजोरी को दूर करने के लिए सहायक होते हैं। यह फल सड़क के किनारे और मंदिरों के आसपास आसानी से मिल जाता है। गूलर फल का पौधा दूध से भरा होता है इसलिए किसी भी जगह पौधा के कट जाने से उस जगह से दूध निकलता है। गूलर के फल को कच्चा और पक्का दोनों तरह से सेवन किया जाता है। कच्चे कूलर को सब्जी के रूप में उपयोग किया जाता है जबकि पका गूलर बिल्कुल गुलाब जामुन की तरह दिखाई देता है, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

वर्तमान समय में कई ऐसे लोग हैं जो शारीरिक कमजोरी और अनेक प्रकार की बीमारियों से परेशान हैं। इनमें से डायबिटीज और मधुमेह की बीमारी बहुत ही खतरनाक बीमारी मानी जाती है लेकिन इसका सही समय पर इलाज करने से यह बीमारी दूर है। मधुमेह की बीमारी के लिए गूलर के फल को पानी में मिलाकर सेवन करना चाहिए। अगर आप दांत दर्द से परेशान हैं तो आपके लिए गूलर का फल फायदेमंद हो सकता है। गूलर के फल को पीसकर इसे पानी में मिलाकर कुल्ला करने से दांत के सभी प्रकार के दर्द दूर हो जाते हैं।

आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे कमेंट में इसके बारे में अवश्य बताए. और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे. ताकि दुसरो को भी इसका फायदा मिल सके.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *