Saturday , December 15 2018
Loading...
Breaking News

चांदीमल ने गेंद से छेड़खानी मामले में खुद को बताया बेकसूर

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद इस महीने के आखिर में होने वाली सालाना कांफ्रेंस में गेंद से छेड़छाड़ के मामलों में सख्त सजा की पैरवी करेगी श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल पर वेस्टइंडीज के विरूद्ध दूसरे टेस्ट के दौरान गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया है आईसीसी इस तरह के अपराधों को लेवल दो से लेवल तीन का करने पर विचार कर रही है अभी तक लेवल दो के क्राइम में एक टेस्ट या दो वनडे के लिए प्रतिबंध का प्रावधान है जबकि लेवल तीन में खिलाड़ी पर चार टेस्ट या आठ वनडे का प्रतिबंध लगाया जाता है

Image result for चांदीमल ने गेंद से छेड़खानी मामले में खुद को बताया बेकसूर

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन ने क्रिकइन्फो से बोला कि क्रिकेट समिति का मानना है कि गेंद से छेड़छाड़ के मामले धोखेबाजी के हैं  खेल भावना के उल्टा हैं आईसीसी के आचार संहिता का अनुच्छेद 2.2.9 टेस्ट मैच, वनडे  टी-20 के खेल की शर्तों के उपनियम 41.3 के उल्लंघन से संबंधित है यह गेंद को पॉलिश करने के अतिरिक्त किसी भी उद्देश्य के लिए गेंद पर किसी भी तरह की कृत्रिम  गैर-कृत्रिम चीजों को लागू करने के उद्देश्य से गेंद को जानबूझकर जमीन पर फेंकने जैसे कार्यों पर प्रतिबंध लगाता है

Loading...

श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल ने स्वीट का प्रयोग करके गेंद से छेड़खानी के आरोपों को खारिज किया है आईसीसी ने बोला कि उन्हें वेस्टइंडीज के विरूद्ध दूसरे टेस्ट के बाद सुनवाई का सामना करना पड़ेगा आईसीसी ने एक बयान में कहा, ‘‘दिनेश चांदीमल ने बोला है कि वह आईसीसी की आचार संहिता की धारा 2.2 .9 के उल्लंघन के दोषी नहीं है मैच रैफरी जवागल श्रीनाथ मौजूदा टेस्ट के बाद मामले की सुनवाई करेंगे ’’

loading...

श्रीलंकाई कप्तान चांदीमल पर ‘गेंद से छेड़छाड़’ का आरोप
दिनेश चांदीमल पर वेस्टइंडीज के विरूद्ध दूसरे टेस्ट के दौरान ‘गेंद से छेड़छाड़’ के उल्लघंन का आरोप लगा, जिसमें वह दोषी भी पाए गए मैच के तीसरे दिन श्रीलंकाई टीम ने गेंद बदलने की मांग से नाराज होकर मैदान पर उतरने से मना कर दिया  मैदान में दो घंटे देर से उतरे अंपायर अलीम डार  इयान गाउल्ड गेंद की हालत से संतुष्ट नहीं थे जिसका उपयोग दूसरे दिन के खेल के आखिर में किया गया था श्रीलंकाई टीम से बोला गया कि वे उसी गेंद से खेल आगे प्रारम्भ नहीं कर सकते

आईसीसी ने टि्वटर पर घोषणा की थी कि चांदीमल पर आईसीसी आचार संहिता के नियम 2.2.9 के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है यह उल्लघंन ‘गेंद की हालत बदलने’ से संबंधित है श्रीलंका पर पहले ही पांच रन का जुर्माना लगाया जा चुका है

खिलाड़ियों के बचाव में उतरा श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड
वेस्टइंडीज के विरूद्ध जारी टेस्ट सीरीज में बॉल टैंपरिंग मामले में फंसे श्रीलंका टीम के कप्तान दिनेश चांदीमल पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा लगाए गए आरोप के बाद श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (एसएलसी) अपने खिलाड़ियों के बचाव में उतर आया था वेबसाइट ‘ईएसपीएन डॉट कॉम’ की रिपोर्ट के अनुसार, एसएलसी ने एक मीडिया रिलीज के जरिए यह बोला है कि वह अपनी टीम के किसी भी खिलाड़ी के विरूद्ध लगे असंगत आरोपों से उसका बचाव करेगा

श्रीलंका बोर्ड ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में कहा, “टीम प्रबंधन ने हमें यह बताया है कि श्रीलंका टीम के खिलाड़ियों ने कुछ भी गलत नहीं किया है ऐसे में अगर किसी भी प्रकार का गलत आरोप लगाया जाता है, तो बोर्ड अपनी टीम के किसी भी खिलाड़ी के बचाव में महत्वपूर्ण कदम उठाएगा ”

गौरतलब है कि पिछले दो वर्ष में दूसरी बार हो रहा है, जब श्रीलंका को गेंद के साथ छेड़छाड़ के मामले में विवादों का सामना करना पड़ा है इससे पहले टीम को पिछले वर्ष दासुन शनाका के कारण इस प्रकार के मामले से जूझना पड़ा था

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *